cover

Welcome to listen to the song "Poem On Mahatma Gandhi In Hindi ��� ��� ��� ������ ��� ��� ��� ������ ��� ��� ��� ������ ��� ������ ��� ��� ��� ��� ������ ��� ��� ������ ���". If this song is the copyright belongs to you, please send a DMCA removal request by e-mail to: , we will process at least 72 hours after we received your mail. For fast report of DMCA removal, you can report by click DMCA Report button below.

Title : Poem on Mahatma Gandhi in Hindi | हिन्दी कविता- बापू महान, बापू महान! महात्मा गाँधी पर गाँधी जयंती
Description : Poem on Mahatma Gandhi in Hindi | हिन्दी कविता- बापू महान, बापू महान! महात्मा गाँधी पर गाँधी जयंती

This is short and simple poem for children about Gandhiji. Children can recite this poem on the occasion of 2nd october(Gandhi Jayanti). Short Essay on Mahatma Gandhi in Hindi is also given in this video. संक्षिप्त निबंध के साथ.

बोलतेचित्र प्रस्तुत करते है ..

गाँधी जयंती के अवसर पर ...

महात्मा गाँधी पे कविता ...


2 अक्टूबर 1869 - 30 जनवरी 1948, भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के एक प्रमुख राजनैतिक एवं आध्यात्मिक नेता, सत्याग्रह (व्यापक सविनय अवज्ञा) के माध्यम से अत्याचार के प्रतिकार के अग्रणी नेता, इस अवधारणा की नींव सम्पूर्ण अहिंसा के सिद्धान्त पर रखी गयी थी जिसने भारत को आजादी दिलाकर पूरी दुनिया में जनता के नागरिक अधिकारों एवं स्वतन्त्रता के प्रति आन्दोलन के लिये प्रेरित किया. गांधी को महात्मा के नाम से सबसे पहले 1915 में राजवैद्य जीवराम कालिदास ने संबोधित किया, बापू (गुजराती भाषा में બાપુ बापू यानी पिता) के नाम से भी याद किया जाता है. सुभाष चन्द्र बोस ने 6 जुलाई 1944 को रंगून रेडियो से गान्धी जी के नाम जारी प्रसारण में उन्हें राष्ट्रपिता कहकर सम्बोधित करते हुए आज़ाद हिन्द फौज़ के सैनिकों के लिये उनका आशीर्वाद और शुभकामनाएँ माँगीं थीं.


महात्मा गाँधी - बापू महान, बापू महान! | कविता

ओ परम तपस्वी परम वीर
ओ सुकृति शिरोमणि, ओ सुधीर
कुर्बान हुए तुम, सुलभ हुआ
सारी दुनिया को ज्ञान
बापू महान, बापू महान!!
बापू महान, बापू महान
हे सत्य-अहिंसा के प्रतीक
हे प्रश्नों के उत्तर सटीक
हे युगनिर्माता, युगाधार
आतंकित तुमसे पाप-पुंज
आलोकित तुमसे जग जहान!
बापू महान, बापू महान!!
दो चरणोंवाले कोटि चरण
दो हाथोंवाले कोटि हाथ
तुम युग-निर्माता, युगाधार
रच गए कई युग एक साथ.
तुम ग्रामात्मा, तुम ग्राम प्राण
तुम ग्राम हृदय, तुम ग्राम दृष्टि
तुम कठिन साधना के प्रतीक
तुमसे दीपित है सकल सृष्टि.

Poem on Mahatma Gandhi in Hindi | हिन्दी कविता- बापू महान, बापू महान! - बापू राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी पर गाँधी जयंती के अवसर पर उच्चारण की जाने वाली कविताये.

और अधिक कविताओं के लिए देखे http://boltechitra.com/poems-mahatma-gandhi-hindi/
For More Poems on Mahatma Gandhi In Hindi Please Visit http://boltechitra.com/poems-mahatma-gandhi-hindi/

#MahatmaGandhi #GandhiJayanti #Bapu #बापू #महात्मागाँधी #गाँधीजयंती #GandhijayantiPoem Subscribe Us for Latest News & Updates ► https://goo.gl/zj7tPw

Stay Connected with Us :

Facebook ► https://goo.gl/tzotU9

Twitter ► https://goo.gl/LxfMjV

Google+ ► https://goo.gl/BA2dah

Pinterest ► https://goo.gl/u3njWz

Instagram ► https://goo.gl/mxcA9J

Tumblr ► https://goo.gl/SJqD3w

Website ► https://goo.gl/KAhPsD
Download as MP3 | Download as MP4 | Fast Download